जोरदार सावन भजन🌿सूना है मेरा घर द्वार भोले मेरे घर आजा भरदे मेरे भंडार भोले मेरे घर आजा🌿

 

 

सुना है मेरा घर द्वार भोले मेरे घर आजा , दर्शन दिखा जा एक बार भोले मेरे घर आजा...... 

तुझको सुननी तुझको बतानी भोले अपने दिल की कहानी भर दे मेरे भी भंडार भोले मेरे घर जा आजा.... 

तुझको भजूं मैं शाम सवेरे मुझको खुशियां भर भर दे दे मिल जाए मुझे भी करार भोले मेरे घर आजा..... 

राहों में मैंने पलकें बिछाईं मेघा बरसे घटा है छाई किस्मत को मेरी दे संवार भोले मेरे घर आजा..... 

बिन तेरे एक पल ना भावे भोले तेरी याद सतावे हर पल करूं मैं इंतजार भोले मेरे घर आजा सूना है मेरा घर द्वार भोले मेरे घर आजा..... 




Share:

जोरदार सावन भजन🌿शिव शंकर भोलेनाथ हो नाथ मत दीजो रोग बुढ़ापे में आनंद आएगा पूरा जरूर सुनें🌹

 

 

शिव शंकर भोलेनाथ हो नाथ मत दीजो रोग बुढ़ापे में....

बेटा दीजो तो ऐसो दीजो,जामें श्रवण जैसो ज्ञान मत दीजो रोग बुढ़ापे में,शिव शंकर भोलेनाथ हो नाथ मत दीजो रोग बुढ़ापे में.....

बहू दीजो तो ऐसी दीजो, जोहो सीता जैसी नारि मत दीजो रोग बुढ़ापे में,शिव शंकर भोलेनाथ हो नाथ मत दीजो रोग बुढ़ापे में....

बेटी दीजो तो ऐसी दीजो जामें मीरा जैसो ज्ञान मत दीजो रोग बुढ़ापे में ,शिव शंकर भोलेनाथ हो नाथ मत दीजो रोग बुढ़ापे में....

पोता दीजो तो ऐसो दीजो,जामें कान्हा जैसो ज्ञान मत दीजो रोग बुढ़ापे में,शिव शंकर भोलेनाथ हो नाथ मत दीजो रोग बुढ़ापे में....

पोती दीजो तो ऐसी दीजो,जिसका देवी जैसा रूप मत दीजो रोग बुढ़ापे में,शिव शंकर भोलेनाथ हो नाथ मत दीजो रोग बुढ़ापे में.....

बुढ़ापा दीजो तो ऐसो दीजो,तेरा भजन करूं दिन रात मत दीजो रोग बुढ़ापे में..... 




Share:

सावन स्पेशल मस्त भजन🌿महलों में नहीं कुटिया में नही जहां याद करो भोले बाबा वहीं आनंद ही आनंद🌿

 

महलों में नहीं कुटिया में नहीं जहां याद करो भोले बाबा वहीं..... 

क्यों पाप कमा के धन जोड़ा क्यों अपनों से रिश्ता तोड़ा सोने में नहीं चांदी में नहीं जहां याद करो भोले बाबा वहीं.....

क्यों छुप कर जोड़ रहा माया तुझे देख रहा ऊपर वाला कंकड़ में नहीं पत्थर में नहीं जहां याद करो भोले बाबा वहीं.......

पाताल गगन और जल थल में भक्तों की सुनते पल भर में गंगा में नहीं जमुना में नहीं जहां याद करो भोले बाबा वहीं...... 

यह सब भोले की माया है इसे कोई समझ नहीं पाया है जादू में नहीं टोना में नहीं जहां याद करो भोले बाबा वहीं..... 




Share:

फरमाइशी शिव भजन दिल खुश कर देगा😂भोले बाबा के घर में चोर घुसा रे सावन में धूम मचाने वाला भजन🌿

 

 

भोले बाबा के घर में चोर घुसा रे , चोर घुसा चोर घुसा चोर घुसा रे भोले बाबा के घर में चोर घुसा रे..... 

ना मिला रुपया ना मिला पैसा गंगा का लहर चारों ओर मिला रे भोले बाबा के घर में चोर घुसा रे..... 

ना मिला सोना ना मिला चांदी चंदा की चमक चारों ओर मिला रे भोले बाबा के घर में चोर घुसा रे.... 

ना मिला हीरा ना मिला मोती सर्पों की माला चारो ओर मिला रे भोले बाबा के घर में चोर घुसा रे....

ना मिला छेना ना मिला रबड़ी बिच्छू ततैया का घोल मिला रे भोले बाबा के घर में चोर घुसा रे.... 

ना मिली मोटर ना मिली गाड़ी नंदी बैल सवारी मिला रे भोले बाबा के घर में चोर घुसा रे....

ना मेरा लड्डू ना मिला पेड़ा भंगिया का घोल चारों ओर मिला रे भोले बाबा के घर में चोर घुसा रे..... 




Share:

भजन व डांस ने रौनक लगा दी💯उमरिया धोखा दे गई रे हरि भजन मैंने कल पे छोड़ा सांस निकल गई रे🤩

 

 

उमरिया धोखा दे गई रे हरि भजन मैंने कल पे छोड़ा सांस निकल गई रे उमरिया धोखा दे गई रे..... 

बालपन हंस खेल गंवाया , भोलेपन में निकल गई रे उमरिया धोखा दे गई रे.... 

आई जवानी नींद नहीं छूटे , सपने में निकल गई रे उमरिया धोखा दे गई रे....

न जानी कब आयो बुढ़ापा , ‌अब सांस अटक गई रे उमरिया धोखा दे गई रे.... 

घर में बैठी बिटिया कुंवारी , कौन करे कन्यादान तैयारी ,देखो कैसी रो रही रे उमरिया धोखा दे गई रे.... 

सतगुरु हमको यही समझाते , राम नाम ही पार लगाते , कब सांस निकल गई रे उमरिया धोखा दे गई रे 




Share:

निर्जला एकादशी स्पेशल 💯 प्यारा सा मुखड़ा घुंघराले केश कलयुग का राजा खाटू नरेश हारे का सहारा🤩

 

 

प्यारा सा मुखड़ा घुंघराले केश, कलयुग का राजा खाटू नरेश हारे का सहारा है मेरा श्याम धणी भक्तों का दुलारा है मेरा श्याम धणी.....

बन सँवर के बैठा ये तो दरबार अपना लगा के, देख लो करिश्मा श्याम चरणों में सर को झुका के, कष्ट कटे दुखड़े मिटें देता छुटकारा है मेरा श्याम धणी भक्तों का दुलारा है मेरा श्याम धणी......

आ रहे हैं लाखों श्याम बाबा का करते हैं दर्शन, ध्यान से जो देखे इनके चेहरे में है वो आकर्षण, दीवाना कर देता ऐसा जादुगारा है मेरा श्याम धणी भक्तों का दुलारा है मेरा श्याम धणी.....

जो भी हो जरुरत सच्चे मन से तू अर्जी लगा दे, चाहिए अगर कुछ इसकी चौखट पे पल्ला बिछा दे , कितनों के किस्मत की रेखा को सँवारा है मेरा श्याम धणी भक्तों का दुलारा है, मेरा श्याम धणी....

मुझको जो कुछ मिला है कैसे शब्दों में वर्णन करूँ मैं , बार बार आकर इस दाता के पैंया पडूं मैं, दिल मेरा यूँ बोले बाबा ये तुम्हारा है मेरा श्याम धणी भक्तों का दुलारा है मेरा श्याम धणी... 




Share: